Shree Hari Satsang Samiti

श्रीहरि सत्संग समिति के विषय में

message copy

slogan copy

श्रीहरि सत्संग समिति

वनवासी भारत की सांस्कृतिक क्रान्ति का अभियान

श्रीहरि सत्संग समिति ‘एकल अभियान‘ के अंतर्गत एक समाजसेवी संगठन है जिसका मुख्य उद्देश्य देश की सुदूर पर्वतीय जनजातीय क्षेत्रों और वनांचलों में बसे वनबन्धुओं के सांस्कृतिक, सामाजिक, आर्थिक, शैक्षिक उत्थान के लिये कार्य करना और समाज में संस्कार शिक्षा के माध्यम से सकारात्मक बदलाव लाने के लिये प्रयास करना है।

वनबन्धुओं के हितों को देश की मुख्य धारा में लाकर उनके विषय में बृहद् चिन्तन के साथ साथ नगरीय समाज का जनजातीय समाज के साथ सेवा और सहयोग के लिये प्रयास और वनबन्धुओं में उनके अधिकारों के प्रति जागरुकता, स्वावलम्बन, स्वास्थ्य के लिये कार्य करना है।

श्रीहरि सत्संग समिति एक पंजीकृत संस्था है और समिति को दिया जाने वाला सहयोग आयकर की धारा 80-जी के अंतर्गत आयकर से मुक्त है।

हमारा लक्ष्य

  1. 2 लाख वनवासी जनजातीय गाँवों में संस्कार केन्द्र की स्थापना
  2. अधिकाधिक परिवारों को वनवासी रक्षा परिवार योजना से जोड़ना
  3. 30 करोड़ वनवासी समाज को नगरीय समाज से जोड़ना और ऊर्जावान बनाना
  4. महिलाओं और युवाओं को वनवासी रक्षा परिवार योजना में मुख्य रुप से जोड़ना
  5. सांस्कृतिक, धार्मिक कार्यक्रमों का अधिकाधिक आयोजन करना
  6. अधिकाधिक वनयात्राओें का आयोजन करना

समिति कार्यप्रणाली – नगर संगठन

समिति कार्यप्रणाली – ग्राम संगठन

Download Hindi Brochure